Connect with us

उत्तराखंड

*स्पा सेंटर की आड़ में चल रहे अनैतिक देह व्यापार के धंधे का पर्दाफाश, ‌चार गिरफ्तार*

उत्तराखंड में स्पा सेंटर की आड़ में चल रहे सैक्स रैकेट का भंडाफोड़ हुआ है। इस मामले में राजधानी दून में पुलिस ने  महिला समेत तीन पुरूषो को  गिरफ्तार किया है। जबकि पांच युवतियों को रेस्क्यू किया गया है। इनसे पैसो का लालच देकर  मसाज की आड़ में देह व्यापार का धंधा कराया जा रहा था। स्पा संचालक व महिला मैनेजर द्वारा फोन व व्हाट्सएप चैट के माध्यम से ग्राहको से सम्पर्क किया जाता था। गिरफ्तार अभियुक्तों के विरूद्व अनैतिक व्यापार अधिनियम 1956 अन्तर्गत अभियोग पंजीकृत किया गया। 

प्राप्त जानकारी के अनुसार वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक देहरादून अजय सिंह को गोपनीय माध्यम से बसंत विहार क्षेत्र में स्पा सेन्टर की आड में अवैध देह व्यापार संचालित किये जाने की सूचना प्राप्त हुई थी। जिस पर उनके द्वारा एण्टी ह्यूमन ट्रैफिकिंग यूनिट व थाना बसंत विहार पुलिस की सयुंक्त टीम गठित कर आवश्यक कार्यवाही के निर्देश दिये गये। गठित टीम द्वारा जीएमएस रोड़ पर स्थित रिलैक्स जोन स्पा एण्ड सैलून पर आकस्मिक चैकिंग की गई, तो स्पा सेन्टर के दो अलग-अलग कमरो में 02 महिला तथा 02 पुरूष आपत्तिजनक स्थिति में मिले।

 मौके से पुलिस टीम को आपत्तिजनक सामग्री बरामद हुई तथा स्पा सेन्टर के अलग कमरे में स्पा सेन्टर में कार्य कर रही 03 अन्य महिलाये मौजूद मिली। मौके पर उक्त स्पा सेन्टर के संचालक उस्मान पुत्र मो. अली, निवासी ग्राम हरजोली झोझा, पो./थाना झबरेड़ा जिला हरिद्वार तथा मैनेजर का कार्य कर रही महिला अनू से पूछताछ करने पर उनके द्वारा बताया गया कि स्पा सेन्टर में ग्राहको को मसाज के अलावा एक्सट्रा सर्विस देने के लिये उनके द्वारा फोन तथा व्हॉटसएप चैट के माध्यम से ग्राहको से सम्पर्क किया जाता है तथा स्पा सेन्टर में कार्य करने वाली युवतियों को ज्यादा पैसो का लालच देकर उनसे देह व्यापार करवाया जाता है।

मौके से पुलिस टीम द्वारा पांच पीड़ित महिलाओं को रेस्क्यू करते हुए स्पा सेटंर के संचालक, मैनेजर का कार्य कर रही महिला व आपत्तिजनक स्थिति में मिले दोनो पुरुषों को गिरफ्तार कर उनके विरुद्ध थाना बसन्त विहार पर अनैतिक देह व्यापार अधिनियम की धारा 3/4/7 के तहत अभियोग पंजीकृत किया गया। रेस्क्यू की गई सभी पीडित महिलाओं को उनके परिजनों के सुपुर्द किया गया। 

पुलिस के अनुसार गिरफ्तार अभियुक्तों मे उस्मान पुत्र मो. अली, निवासी ग्राम- हरजोली झोझा, पो0/थाना झबरेड़ा, जिला हरिद्वार, अनु पुत्री सुरेश सिंह, निवासी ग्राम थिथिकी कवादपुर थाना मंगलौर हरिद्वार, शादाब पुत्र शमशाद खान, निवासी परवल निकट जामा मस्जिद, पो. उमेदपुर, थाना पटेलनगर देहरादून व इम्माराजी श्रीणिवासुलु पुत्र इम्माराजू, निवासी ग्राम थिंमापुरम, थासली गिधालोर, जिला प्रकाशाम, आन्ध्र प्रदेश, हाल पता क्लेमनटाउन, देहरादून शामिल थे।

Continue Reading
You may also like...

More in उत्तराखंड