Connect with us

इवेंट

*जल का संरक्षण हमारी आने वाली पीढ़ी के लिए बहुत जरूरीः सरिता आर्य*

भवाली/नैनीताल। स्प्रिंग एण्ड रिवर रिजुविनेशन प्राधिकरण (SARRA) देहरादून उत्तराखंड के तत्वाधान में राजकीय इण्टर कॉलेज रातीघाट विकासखण्ड बेतालघाट में जल उत्सव सप्ताह के अंर्तगत शिप्रा नदी क्षेत्र में बृहद स्तर पर जल संरक्षण, संवर्धन और सफाई अभियान चलाया गया। यह अभियान जनपद के विभिन्न स्थानों में चलाया गया। इस अभियान में विभिन्न विभागों, जनपद स्तर पर संचालित समूहों और स्थानीय जनता ने प्रतिभाग किया।

कार्यक्रम की अध्यक्षता जिला पंचायत अध्यक्ष नैनीताल बेला तोलिया ने की। विधायक नैनीताल सरिता आर्या और जिला पंचायत अध्यक्ष नैनीताल बेला तोलिया ने संयुक्त रूप से दीप प्रज्ज्वलित कर कार्यक्रम का शुभारंभ किया। रातीघाट की छात्राओं ने स्वागत गीत गाकर अतिथियों का स्वागत किया गया।

विधायक नैनीताल सरिता आर्या ने जल संरक्षण और संवर्धन के बारे में अपना मन्तव्य जनता के समक्ष रखा। श्रीमती आर्या ने कहा कि जल का संरक्षण हमारी आने वाली पीढ़ी के लिए बहुत जरूरी है, आने वाले समय में पानी के लिए लड़ाइयां होंगी। आने वाली पीढ़ी के सुखमय जीवन के लिए हमारे द्वारा आज जल का संरक्षण और संवर्धन करना बेहद जरूरी हो गया है। हम सबको मिलकर जल संरक्षण और संवर्धन का कार्य करना ही होगा।

अध्यक्ष बेला तोलिया ने कार्यक्रम में सम्मिलित स्थानीय जनता को संबोधित करते हुए कहा कि जल ही जीवन है। पानी की उपयोगिता, उसके संरक्षण और संवर्धन के तरीकों से आप सभी भलीभांति परिचित हैं। जल संरक्षण और संवर्धन की जिम्मेदारी सरकार की ही नहीं हम सबकी है। जल संरक्षण में हम सभी को अपनी अपनी भूमिका निभानी है।

मुख्य विकास अधिकारी अशोक कुमार पाण्डेय ने अपने संबोधन में कार्यक्रम में सम्मिलित स्थानीय जनता से जल संरक्षण और संवर्धन के लिए अपनी सहभागिता निभाने की अपील की। उन्होंने कहा कि जल संरक्षण करना भविष्य के लिए आवश्यक है। आगामी भविष्य में अगला युद्ध पानी के लिए होगा।

इसी सन्दर्भ में राजकीय इण्टर कॉलेज रातीघाट में जल संरक्षण और जल संवर्धन के साथ ही पर्यावरण के महत्व पर प्रकाश डालने के लिए एक गोष्ठी का आयोजन भी किया गया। इस गोष्ठी के शामिल हुई रातिघाट की जनता को जल संरक्षण और उसके संवर्धन के बारे में विस्तृत जानकारी दी गई। उनको बताया गया कि किस प्रकार हम वर्षा का जल संरक्षित कर उसका उपयोग कृषि कार्यों में कर सकते हैं।

इस दौरान कर्यक्रम में पीडी हिमांशु जोशी, डीडीओ गोपाल गिरी गोस्वामी, एडीपी चन्द्रा फर्तियाल, प्रभारी ईओ अतुल भण्डारी, बाल विकास परियोजना अधिकारी अनिता सक्सेना, परियोजना निदेशक जलागम डा0 एसके उपाध्याय, शिप्रा कल्याण समिति जगदीश नेगी, लाल सिंह चौहान आदि उपस्थित थे।

More in इवेंट