Advertisement
Advertisement
Monday, February 19, 2024

*आईएफएस अधिकारी डॉ पराग मधुकर धकाते को दी गई बड़ी जिम्मेदारी*

देहरादून। महिला कर्मचारी से छेड़छाड़ के आरोप के बाद आईएफएस सुशांत पटनायक को उत्तराखंड प्रदूषण बोर्ड के सदस्य सचिव पद से हटा दिया गया था। तब से किसी काबिल अफसर को प्रदूषण बोर्ड की जिम्मेदारी का इंतजार था। सरकार ने अब वरिष्ण आईएएफएस पराग मुधुकर धकाते को उत्तराखंड पॉल्यूशन कंट्रोल बोर्ड में सदस्य सचिव पद पर तैनात किया है।

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी के अनुमोदन के बाद शासन ने प्रदू,ण नियंत्रण बोर्ड में नए सदस्य सचिव की तैनाती कर दी है। इससे पहले सीनियर आईएफएस अधिकारी सुशांत पटनायक इस पद को देख रहे थे, लेकिन उन पर हाल ही में महिला से छेड़छाड़ का आरोप लगा। इसके बाद शासन ने पद से हटाते हुए प्रमुख वन संरक्षक हॉफ के कार्यालय में उन्हें सम्बद्ध कर दिया था। सरकार ने अब इस जिम्मेदारी को आईएफएस अधिकारी डॉक्टर पराग मधुकर धकाते को दिया है। पराग मधुकर धकाते काबिल अफसर माने जाते हैं।

वे फिलहाल वन पंचायत का काम देख रहे थे। इससे पहले मुख्यमंत्री धामी ने उन्हें अतिक्रमण हटाओ अभियान की जिम्मेदारी भी दी थी। माना जा रहा है कि अतिक्रमण हटाओ अभियान में बेहतर काम का ईनाम उन्हें मिला है। पॉल्यूशन कंट्रोल बोर्ड में सदस्य सचिव का पद बेहद महत्वपूर्ण है। राज्य के पर्यावरण को स्वस्थ रखने के अलावा उद्योगों के साथ तालमेल बनाना बोर्ड की बडी जिम्मेदारियों में से एक है। ऐसे में पराग मधुकर धकाते पर सरकार ने विश्वास जताया है।

Latest news

Related news

- Advertisement -
Advertisement

You cannot copy content of this page