Friday, April 19, 2024

*आयुक्त के अफसरों को निर्देश- रोडवेज समेत सार्वजनिक इलाकों में हो नियमित चैकिंग*

हल्द्वानी। कैम्प कार्यालय में आयुक्त दीपक रावत ने काफी शिकायतें लम्बित होने के कारण गुरूवार को जनसुनवाई की। जन शिकायतों में अधिकांश शिकायतें सडक, बिजली, पानी, भूमि विवाद, पति, पत्नी के आपसी विवाद के साथ ही विभागों के अधिकारियों से सम्बन्धित आई। जनसुनवाई में आयुक्त ने विभागीय अधिकारियों के साथ ही फरियादियों को तलब कर समस्याओं का मौके पर समाधान किया।

आयुक्त ने कहा कि हल्द्वानी के साथ ही उधमसिंह नगर मे लोेगों द्वारा मिलकर जमीन बेची जा रही है और प्लाटिंग की जा रही है। लोगों द्वारा किसी भी प्रकार का रास्ता, विद्युत तथा पानी की मूलभूत सुविधायें नही दी जाने पर उन्होंने प्राधिकरण को निर्देश दिये है कि हल्द्वानी एवं रूद्रपुर शहरों में इस प्रकार की प्लाटिंग पर रोक लगाई जाएं तथा सम्बन्धितों के खिलाफ कार्यवाही भी अमल में लाई जाए। उन्होंने कहा रोडवेज सहित सार्वजनिक स्थानों में जहां पर लोगों का आवागमन काफी होता है। उन स्थानों पर साफ सफाई के साथ ही रात्रि में आम जनमानस की सुरक्षा को देखते हुये पुलिस महकमे के अधिकारियों को निर्देश दिये हैं कि पुलिस द्वारा सार्वजनिक स्थानों के साथ ही रोडवेज स्टेशनों की नियमित चैकिंग की जाए तथा असामाजिक तत्वों के आवागमन पर रोक लगाई जाए। उन्होंने कहा जो निराश्रित लोग हैं उनको रैन बसेरे में भेजने का प्रबन्ध किया जाए।

आयुक्त ने कहा कि जो लोग धंधे के तौर मुनाफाखोरी कर रहे हैं। उन्होंने इसके लिए जिलाधिकारी एवं वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों को निर्देशित कर मुनाफाखोरों पर रोक लगाने के निर्देश दिये है। उन्होंने कहा जो लोग धंधे के तौर मुनाफाखोरी का कार्य कर रहे हैं उन लोगों को चिन्हिकरण कर कार्यवाही करने के भी निर्देश दिये। जनसुनवाई में देवलचौड खाम रामपुर रोड निवासी विद्या सागर, गीता सागर ने बताया कि उन्होंने व अन्य लोगांे द्वारा दिनेश आर्य, पूरन आर्य आदि भाईयों से जमीन क्रय कर भवन का निर्माण किया लेकिन जिन लोगों ने जमीन बेची उनके द्वारा ना तो सडक निर्माण कराया और विद्युत विभाग द्वारा लगाये जा रहे विद्युत के पोल भी नही लगाने दे रहे है। आयुक्त ने क्रेता, विक्रेता, विद्युत विभाग एवं राजस्व महकमे के अधिकारियों को तलब कर कहा कि विद्युत विभाग एक सप्ताह के अन्दर लाईन बिछा दे अवरोघ होने पर सम्बन्धित के खिलाफ एफआईआर दर्ज की जाए।

बीना पंचवाल निवासी ग्राम हरतोला ने बताया कि उनके पति ने रमेश बिष्ट से दमुवांढूगा में जमीन क्रय की थी लेकिन उनके पति के मृत्यु के उपरान्त जमीन की धनराशि वापस नही दी। आयुक्त ने क्रेता एवं विक्रेता दोनो को तलब कर 5.50 लाख धनराशि एक माह के भीतर बीना पंचवाल को लौटाने के निर्देश दिये। इसके साथ ही जनसुनवाई में आरती पाण्डे निवासी कठघरिया ने बताया कि उन्होने 21 लाख में अंशु जोशी से मकान क्रय किया था, लेकिन वह मकान की धनराशि बैनामेे के अनुसार सही समय पर नही दे पाई। उन्होंने आयुक्त सेे धनराशि वापस दिलाने की मांग की। जिस पर आयुक्त ने दोनों को कार्यालय में तलब कर एक सप्ताह के भीतर धनराशि वापस करने के निर्देश दिये। इसके साथ ही जनसुनवाई में भावन पाठक द्वारा आठ माह से धनराशि वापस दिलाने की मांग,गोविन्द बल्लभ ने मारपीट एवं गुमशुदगी, देवकी नन्दन आर्य मल्लीताल ने जमीन की धोखाधड़ी की समस्या रखी। आयुक्त ने जनसुनवाइ में अधिकांश समस्याओं का मौके पर निदान किया।

Latest news

Related news

- Advertisement -

You cannot copy content of this page