Advertisement
Advertisement
Saturday, February 24, 2024

*नैनीताल समेत इन जिलों में छाया रहेगा कोहरा, बढ़ेंगी मुश्किलें*

देहरादून। उत्तराखंड में कड़ाके की ठंड पड़नी शुरु हो गई है। एक ओर जहां पहाड़ की चोटियों पर बर्फबारी का दौर जारी है। वहीं दूसरी ओर मैदानी इलाकों में तापमान लगातार गिरता जा रहा है। उत्तराखंड में शुष्क मौसम के बीच पारे में तेजी से गिरावट आने लगी है। ज्यादातर क्षेत्रों में न्यूनतम तापमान में एक से दो डिग्री सेल्सियस तक की कमी दर्ज की गई है।

मौसम विभाग ने चार जनवरी से लेकर 6 जनवरी तक राज्य के देहरादून, पौड़ी तथा नैनीताल जनपदों के मैदानी क्षेत्र के कुछ भागों में उथल से मध्य कोहरा छाए रहने की संभावना जताई है। मौसम विभाग का कहना है कि घना कोहरा के चलते यातायात में परेशानी उत्पन्न हो सकती है। कहीं-कहीं सड़क यातायात टकराव की स्थिति के अलावा कुछ क्षेत्रों में हवाई अड्डों पर न्यूनतम सीमा से कम दृश्यता विमान लैंडिंग अटैक ऑफ को प्रभावित कर सकती है। इसके अलावा मौसम विभाग ने उत्तरकाशी, चमोली, रुद्रप्रयाग, टिहरी, देहरादून ,पौड़ी गढ़वाल, पिथौरागढ़, बागेश्वर, अल्मोड़ा, चंपावत तथा नैनीताल में कुछ जगहों पर पाला गिरने की भी संभावना जताई है।

मौसम विभाग का कहना है कि 6 जनवरी को ऊधमसिंह नगर तथा हरिद्वार में घना कोहरा छाने से परेशानी हो सकती है। इस बीच राज्य में नौ जनवरी से मौसम बदलने के आसार हैं। प्रदेशभर में नौ जनवरी को पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय होगा। मौसम विभाग के मुताबिक, पहाड़ी और मैदानी इलाकों में नौ एवं दस जनवरी को हल्की से मध्यम बारिश हो सकती है। ऊंचेइलाकों में बर्फबारी की भी संभावना है। प्रदेशभर में लंबे समय से बारिश एवं बर्फबारी नहीं होने से फसलों पर भी असर पड़ रहा है। मैदान में पांच दिन कोहरे का येलो अलर्ट: मौसम विज्ञान केंद्र के प्रभारी निदेशक रोहित थपलियाल ने बताया कि प्रदेश में अगले पांच दिन तापमान सामान्य बना रहेगा। बुधवार को दून का अधिकतम तापमान 22.5 एवं न्यूनतम तापमान 5.6 डिग्री सेल्सियस रहा। यूएसनगर और हरिद्वार में पांच दिन कोहरे का येलो अलर्ट जारी किया गया है। दून, चंपावत, नैनीताल और पौड़ी में भी सुबह-शाम कोहरा छा सकता है।

Latest news

Related news

- Advertisement -
Advertisement

You cannot copy content of this page