Advertisement
Advertisement
Friday, February 23, 2024

*एनआईपीएएम के तहत आईपीआर जागरूकता 2.0 विषय पर व्याख्यान, बताए यह पहलू*

नैनीताल। आईपीआर सेल कुमाऊं विश्वविद्यालय, नैनीताल की ओर से आईक्यूएसी के समन्वयन में यूकॉस्ट, देहरादून द्वारा प्रायोजित ऑनलाईन व्याख्यान के अर्न्तगत एक व्याख्यान का आयोजन किया गया।

जिसमें अतिथि व्याख्यान हेतु डॉ राजू असिस्टेंट कंट्रोलर, वाणिज्य एवं उद्योग अल्पसंख्यक, भारत सरकार द्वारा जागरूकता के तहत एनआईपीएएम के तहत आईपीआर जागरूकता 2.0 विषय पर महत्वपूर्ण व्याख्यान दिया गया एवं आईक्यूएसी के विभिन्न पहलुओं से श्रोताओं को अवगत कराया। डॉ राजू ने सभी प्रतिभागियों को बौद्धिक सम्पदा का महत्व समझाते हुए इनके विभिन्न आयामों पर कार्य करने हेतु प्रेरित किया जिसमें कि शिक्षा के क्षेत्र में पुरानी परम्पराओं को छोड़कर वर्तमान में नई दिशाओं के अनुसार प्रगति हों। निदेशक आईक्यूएसी प्रो. संतोष कुमार ने सभी प्रतिभागियों का स्वागत किया।

निदेशक डीएसबी परिसर, नैनीताल प्रो. नीता बोरा शर्मा ने अपने सम्बोधन में कार्यक्रम के महत्व पर प्रकाश डाला। समन्वयक आई०पी०आर० कुमाऊँ विश्वविद्यालय प्रो० वीना पाण्डे ने अतिथि प्रो० राजू के जीवनवृत्तांत को सभी प्रतिभागियों से अवगत कराया। प्रो० एल० के० सिंह, निदेशक, सर जे०सी०बोस तकनीकी परिसर, भीमताल ने कार्यक्रम के अंत में सभी प्रतिभागियों का धन्यवाद प्रेषित किया एवं आई०पी०आर० सेल के विकास हेतु शुभकामानाएं दी। व्याख्यान में परिसर के सभी विभागाध्यक्ष, शिक्षकगण, शोधार्थी, विद्यार्थियों के साथ-साथ कुमाऊँ विश्वविद्यालय, नैनीताल से संबद्ध कॉलेज एवं संस्थानों के विभिन्न विभागों से लगभग 150 से अधिक शिक्षकगणों, शोधार्थियों एवं विद्यार्थियों ने प्रतिभाग किया एवं इस महत्वपूर्ण विषय पर व्याख्यान के साथ-साथ रोचक परिचर्चा से भी अपना ज्ञानवर्धन किया।

Latest news

Related news

- Advertisement -
Advertisement

You cannot copy content of this page