Advertisement
Advertisement
Sunday, February 18, 2024

*जिलाधिकारी के निर्देश- अधिशासी अभियंता करें सड़कों का भ्रमण, लापरवाही नहीं होगी बर्दाश्त*

हल्द्वानी। कैम्प कार्यालय हल्द्वानी में जिलाधिकारी वंदना नेे पीएमजीएसवाई विभाग के सड़कों पर लगातार हो रही दुर्घटनाओं को देखते हुए सड़क सुरक्षा की बैठक ली। पीएमजीएसवाई के तीनों डिवीजनों ज्योलीकोट, काठगोदाम एवं हल्द्वानी के अधिशासी अभियंता द्वारा बताया गया कि जनपद की 49 सडके पीएमजीएसवाई के अंतर्गत हैं।

जिलाधिकारी ने कहा कि सभी अधिशासी अभियंता अपने क्षेत्र के अंतर्गत 4 दिसम्बर से 9 दिसम्बर 2023 तक निर्माणाधीन और 11 दिसम्बर से 17 दिसम्बर 2023 तक अनुरक्षणाधीन पीएमजीएसवाई की सडकें जो अनुरक्षण में चल रही हैं क्षेत्र के अधिशासी अभियंता स्थलीय भ्रमण करेंगे तथा स्थलीय भ्रमण में कार्याें की गुणवत्ता, मजदूरों की संख्या, कार्यों की प्रगति, मेटेरियल की मात्रा का निरीक्षण करेंगे। साथ ही निरीक्षण में सम्बन्धित ठेकेदार, जनप्रतिनिधि, ग्राम प्रधान, बीडीसी मेंबर को भी सूचित कर संयुक्त रूप से निरीक्षण किया जाए। उन्होंने कहा कि आवश्यकता के अनुसार कमी पाये जाने, तथा सुपरविजन में लापरवाही पाये जाने पर सम्बन्धित जेई के खिलाफ कार्यवाही की जायेगी। उन्होंने कहा रोड निर्माण में गुणवत्ता में कोई कोताही बर्दाश्त नहीं की जायेगी।

उन्होंने पीएमजीएसवाई के अधिशासी अभियंता को निर्देश दिये कि निरीक्षण के दौरान जहां पर कमी है उस कमी को सम्बन्धित ठेकेदार से ठीक कराई जाए।  उन्होंने कहा जिन सडकों का रखरखाव विभाग के पास है,  उन सडकों पर गडडों की स्थिति, लैंड स्लाइड के प्वाइंट को चिन्हिकरण करें तथा दुर्घटना सम्भावित क्षेत्रों में चेतावनी बोर्ड,  बैरिकेडिंग, संकेतांक साइन बोर्ड लगाये जांए। जिससे दुर्घटनाओं को रोका जा सके। उन्होंने कहा यह भी सुनिश्चित किया जाए कि कलवट, काजवे जिन मार्गाें पर क्षतिग्रस्त है उनकी मरम्मत करना भी सुनिश्चित करें साथ ही जिन सडकों के किनारे झाडी कटान नही हुआ है उन स्थानों पर शीघ्र झाडी कटान किया जाए। उन्होंने सडकों पर कंस्ट्रक्शन सामग्री को तत्काल हटाने के भी निर्देश दिये। उन्होंने कहा 20 से 23 दिसम्बर के मध्य यादृच्छिक सत्यापन जनपद की सभी 49 सडकों का अधिकारियों द्वारा किया जायेगा। विसंगति व कोताही होने पर सम्बन्धित अधिशासी अभियंता एवं जेई के खिलाफ कठोर कार्यवाही अमल में लाई जायेगी।

उन्होंने कहा जो सडकें लोनिवि को हैंडओवर हो गई हैं। उनका रोड सेफ्टी के अन्तर्गत क्रास चैकिंग करा लें।  एनएच की समीक्षा के दौरान उन्होंने अधिशासी अभियंता एनएच सुनील कुमार को निर्देश दिये कि रानीबाग जंक्शन तिराहे पर ट्रैफिक जाम की वजह से दुर्घटना होने की सम्भावन को देखते हुये तिराहे पर पैरापिट, चौडीकरण आदि कार्य किये जाने है शीघ्र प्रस्ताव बनाने के निर्देश दिये। उन्होंने धनगढी रामनगर ब्रिज हेतु शीघ्र टैंडर प्रक्रिया कर कार्य प्रारम्भ करनेे के निर्देश दिये। बैठक में अधिशासी अभियंता पीएमजीएसवाई मनोज कुमार, हेम उपाध्याय, एनएच सुनील कुमार के साथ ही विभागीय अधिकारी उपस्थित थे।

Latest news

Related news

- Advertisement -
Advertisement

You cannot copy content of this page