Advertisement
Advertisement
Saturday, February 24, 2024

*साइबर क्राइम- पुलिस के हाथ लगी सफलता, ठग को यहां से किया गिरफ्तार*

पिथौरागढ़। साइबर क्राइम मामले में पुलिस के हाथ एक और सफलता लगी है। पुलिस ने इस मामले में एक ठग को गिरफ्तार किया है। जबकि दो ठग पूर्व में जेल भेजे जा चुके हैं। इन ठगों ने केबीसी कॉन्टेस्ट में लाखों रुपये की लॉटरी लगने का लालच देकर 28 लाख रुपये हड़पे थे।

प्राप्त जानकारी के अनुसार विगत 4 जनवरी 2023 को शिकायतकर्ता राजेन्द्र सिंह कार्की निवासी बनकोट गणाई गंगोली बेरीनाग द्वारा थाना बेरीनाग में तहरीर दी गई थी कि किसी अज्ञात व्यक्ति द्वारा उन्हें केबीसी में पच्चीस लाख रुपये की लॉटरी लगने के नाम पर कुल अठ्ठाईस लाख रुपये की ठगी कर ली गई है। राजेन्द्र सिंह कार्की द्वारा दी गई तहरीर के आधार पर थाना बेरीनाग में अज्ञात व्यक्ति के विरुद्ध धारा 420 भादवि के अन्तर्गत अभियोग पंजीकृत किया गया था, जिसकी विवेचना उप निरीक्षक हरीश पुरी, चौकी प्रभारी चौकोड़ी द्वारा सम्पादित की जा रही है।

पुलिस अधीक्षक पिथौरागढ़ लोकेश्वर सिंह के आदेशानुसार, पुलिस क्षेत्राधिकारी पिथौरागढ़ नरेन्द्र पंत के पर्यवेक्षण में अभियुक्त गणों की गिरफ्तारी के लिये गठित पुलिस टीम द्वारा उक्त मामले में पूर्व में ही साइबर सैल की मदद से प्रकाश में आये अभियुक्त एसके अफरोज अली पुत्र एसके कमर अली उम्र- 26 वर्ष, निवासी मिर्जा पटना गुआलसिंह केन्द्रपारा, ठाकुरपटना उड़ीसा को उसके घर से गिरफ्तार कर लिया गया है तथा अभियुक्त की पत्नी अजमेरी खानम निवासी मिर्जा पटना गुआलसिंह केन्द्रपारा, ठाकुरपटना उड़ीसा को धारा- 41(क) सीआरपीसी का नोटिस दिया जा चुका है।

अभियुक्त गणों से पूछताछ के आधार पर उक्त प्रकरण में एक अन्य अभियुक्त अल्ताफ अली वारसी पुत्र असगर अली वारसी उम्र- 26 वर्ष, निवासी चतुरसिला खुन्ता मयूरभंज केन्द्रपारा उड़ीसा का नाम भी प्रकाश में आया था, जो अपनी गिरफ्तारी से बचने के लिए फरार चल रहा था। अभियुक्त की गिरफ्तारी के लिये पुलिस अधीक्षक द्वारा टीम गठित की गई। जिस पर पुलिस टीम द्वारा साइबर, सर्विलांस सैल, एसओजी की मदद से गहन सुरागरसी पतारसी करते हुए अभियुक्त अल्ताफ अली वारसी को ऋषिकेश, देहरादून से गिरफ्तार किया गया। अभियुक्त को माननीय न्यायालय के समक्ष प्रस्तुत कर न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है।

Latest news

Related news

- Advertisement -
Advertisement

You cannot copy content of this page