Advertisement
Advertisement
Sunday, February 18, 2024

*गौला खनन वाहनों की फिटनेस निजी हाथों में सौंपने से रोष, कारोबारियों ने इस विधायक से लगाई हस्तक्षेप की गुहार*

हल्द्वानी। गौला खनन से जुड़े वाहन स्वामियों में वाहनों की फिटनेस निजी हाथों से रोष व्याप्त है। इसके विरोध में उन्होंने हल्द्वानी और भीमताल विधायक को ज्ञापन सौंपा है। कारोबारियों की गुहार पर हल्द्वानी विधायक सुमित हृदयेश ने परिवहन सचिव से दूरभाष पर वार्ता की है।

गौला खनन कारोबार से जुड़े लोग गुरुवार को हल्दानी विधायक सुमित हृदयेश से उनके आवास पर मिले।  उनका कहना था कि खनन वाहनों का फिटनेस एक तो शहर दूर किया जा रहा है। इससे खनन स्वामियों पर अतिरिक्त बोझ भी पड़ रहा है। इस पर विधायक सुमित ने परिवहन सचिव व अन्य अधिकारियों से इस मसले पर बातचीत की। विधायक से मिलने वालों में जीवन कबडवाल, इंद्र नयाल, हरीश भंडारी, दिंगबर रावत, दीवान चौहान आदि कारोबारी शामिल थे। उधर गौला मजदूर संघर्ष समिति के अध्यक्ष राजेंद्र सिंह बिष्ट ने भीमताल विधायक राम सिंह कैड़ा को उनके निवास स्थान पर जाकर फिटनेस को निजी हाथों पर दिए जाने के विरोध में ज्ञापन सौंपा।

उन्होंने मांग की है कि फिटनेस को प्राइवेट हाथों में न दिया जाए। साथ ही गोला से जुड़े वाहन स्वामियों की समस्या को मुख्यमंत्री तक पहुंचने की मांग की। कहा कि गौला से जुड़े 7000 डंपर स्वामियों को निजी हाथों पर फिटनेस दिये जाने से आर्थिक नुकसान उठाना पड़ेगा क्योंकि गौला से जुड़े हुए डंपर साल में सिर्फ पांच महीने के आसपास ही खनन करते हैं बाकी समय गाड़ी सलेंडर रहती है एक साथ रिलीज करने पर फिटनेस होना संभव नहीं होगा वैसे भी गौला में पुरानी गाडिय़ां ही खनन करती हैं।  इधर आरटीओ आर सैनी ने बताया कि केंद्र सरकार के निर्देश के क्रम में यह सिस्टम लागू किया जा रहा है। अभी खनन वाहन सरेंडर हैं, फिटनेस से पहले यह रिलीज कराने होंगे।

Latest news

Related news

- Advertisement -
Advertisement

You cannot copy content of this page